February 28, 2024

प्रदेश भर में बर्फबारी से   645 सड़कें यातायात के लिए बाधित विभिन्न क्षेत्रों में 1416 बिजली ट्रांसफार्मर ठप पड़ने से कई क्षेत्रों में बिजली गुल

शिमला। हिमाचल प्रदेश में पांच दिन बारिश-बर्फबारी के बाद राज्य के कई क्षेत्रों में लोगों की परेशानियां भी बढ़ गई है। शिमला के कुफरी सहित राज्य के अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्र बर्फबारी का सोमवार को भी दौर जारी रहा वहीं राजधानी शिमला समेत निचले क्षेत्रों में झमाझम बारिश हुई है। चोटियों पर बर्फ की मोटी परत चढ़ गई है। प्रदेश भर में बर्फबारी के चलते 645 सड़कें यातायात के लिए बाधित है वहीं राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में 1416 बिजली ट्रांसफार्मर ठप पड़ने से कई क्षेत्रों में बिजली गुल है। शिमला जिले में 242 सड़कें यातायात के लिए बाधित हैं वहीं, लाहौल-स्पीति में  157, मंडी  51 , कुल्लू 93, किन्नौर 24 और चंबा जिले में 61 सड़कें बाधित हैं। हालांकि, लोक निर्माण विभाग सड़कों की बहाली के कार्य में लगा है। इसके अलावा राज्य में 52 जलापूर्ति स्कीमें भी प्रभावित चल रही हैं। जानकारी के अनुसार रोहतांग दर्रा में चार फीट ताजा बर्फबारी दर्ज की गई। जबकि अटल टनल के साथ पोर्टल में 60, सोलंगनाला 45, मनाली 15, जलोड़ी दर्रा में 40 सेंमीमीटर ताजा बर्फबारी हुई है। वहीं किन्नौर जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में रुक-रूककर बर्फबारी जारी है।
6 से 11 फरवरी तक साफ रहेगा मौसम
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य में 6 से 11 फरवरी तक मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान जताया गया है। वहीं विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान अधिकतम तापमान में उल्लेखनीय गिरावट आई है। औसत अधिकतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया। मौसम खुलने से किसान-बागवान भी खेतों और बगीचों में काम कर सकेंगे। चोटियों पर कई फुट बर्फबारी से ग्लेशियरों को भी संजीवनी मिल गई है।

About Author