February 28, 2024

हिमाचल प्रदेश भारी बारिश के बाद फंसे 67 हजार पर्यटकों को सुरक्षित निकाल दिया गया है  आठ हजार पर्यटक अभी भी फंसे हुए है। 

 

शिमला।,,सीएम सुखविंदर सुक्खू ने बताया है कि प्रदेश में तीन दिन तक लगातार हुई बारिश ने भारी तबाही। मचाई है। आ देने की मांग की हेयरपदा में केंद्र सरकार ने सहयोग का वादा किया है। सरकार ने इस आपदा में पहले फंसे हुए लोगों को रेस्क्यू किया। *75 हजार में से 67 हजार पर्यटकों को निकाल दिया है।* कसोल में कुछ पर्यटक फंसे है उनके पास खाने पीने का सामान पहुंचाया जा रहा है। *अभी तक इस आपदा में 103 लोगो की मौत हो गई है* जबकि 16 लोग गुम है हालांकि किसी भी पर्यटक की मौत नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि चार हजार करोड़ का अनुमानित नुकसान बढ़कर आठ से नौ हजार करोड़ का है।केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से फोन पर बात हुई है *केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से दो हजार करोड़ की राहत की मांग की गई है* उन्होंने बताया कि 188 करोड़ की राहत 12 जिलों को प्रदेश सरकार ने दी है। वन्ही प्रदेश सरकार ने 315 करोड़ जो आपदा का केंद्र के पास पिछला बकाया है उसकी मांग की गई है। सीएम ने कहा कि हिमाचल में आपदा राहत कोष 2023 बनाया गया है लोगों से इसमें सहयोग की अपील की गई है। जिसमे कांग्रेस विधायक व मंत्रियों ने एक महीने का वेतन, आईएएस HAS एसोसिएशन ने एक दिन की सैलरी आपदा राहत कोष में देने का फैसला लिया है। इसके अलावा 1100 करोड़ राज्य ने इस आपदा के लिए जारी किया है। जिसमे 610 करोड़ पीडब्ल्यूडी और 218 करोड़ आईपीएच के लिए जारी किया है।

 

About Author