February 24, 2024

आईजीएमसी के एमएस और विख्यात न्यूरो सर्जन डॉ जनक ने दिया नोटिस, नौकरी छोड़ने की जताई इच्छा

शिमला। राजधानी शिमला के तीनों बड़े अस्पतालों के लिए नए मुखिया जल्दी तलाशने होंगे। आइजीएमसी, सुपर स्पेशल्टी अस्पताल चम्याणा व रिपन अस्पताल तीनों के मुखिया ने ही अपने पद से ही अस्पतालों के एमएस ने अपना रिजाइन या वीआरएस का पत्र सरकार को सौंप दिया है । तीनों ही डॉक्टर चुनावी समर में उतरने की तैयारी में है। आइजीएमसी के एमएस डॉक्टर जनक राज ने अपना रिजाइन के लिए 3 महीने का नोटिस सरकार को दे दिया है । वहीं सुपरस्पेशल्टी अस्पताल चमियाणा के एमएस डॉक्टर ललित चंद्र कांत ने भी वीआरएस के लिए आवेदन किया है। इसी तरह से अस्पताल के डॉक्टर लोकेंद्र शर्मा ने भी के लिए आवेदन कर दिया है । पार्टी टिकट मिलती है तो राज्य सरकार को शहर के तीनों ही बड़े अस्पतालों के लिए नए एमएस तलाशने होंगे। इन तीनों ने भाजपा की टिकट के लिए अपनी नौकरी दांव पर लगा दी है। इनमें से डॉक्टर जनक राज भरमौर से पार्टी की टिकट के लिए आवेदन कर सकते हैं । वही डॉक्टर लोकेंद्र शर्मा ठियोग से पार्टी की टिकट के लिए दावेदार हो सकते हैं । डॉक्टर ललित चंद्रकांत इस बार फिर से नाचन विधानसभा क्षेत्र से टिकट के लिए आवेदन करेंगे ।

तीनों की लंबे समय से जुटे हैं जनसंपर्क अभियान में

तीनों लंबे समय से अपने क्षेत्रों में लोगों के साथ संपर्क बनाने में जुटे हैं । इसके लिए स्वास्थ्य जांच के साथ-साथ अन्य शिविरों का आयोजन भी लगातार किया जा रहा है । साथ ही लोगों के बीच में जनसंपर्क बढा रहे हैं। वहीं जनसेवा का काम में लगे हैं.

पिछली बार भी तीनों ने ही किया आवेदन

इनमें से तीनों डॉक्टरों ने पिछली बार भी भाजपा की टिकट के लिए आवेदन किया था। चुनावों के लिए नोटिस भी दे दिया था। टिकट ना मिलने के बाद अपना नोटिस वापस ले लिया था। इसके बाद से तीनों ही अस्पतालों में एसएस के पद पर सेवारत है। इन डाक्टरों के चुनावी समर में उतरने के बाद चर्चा राजनीतिक गलियारों में गरमा गई है कि इस बार इनके चुनावी समर में उतरे तो पहली बार इतनी बडी संख्या में डाक्टर चुनावी समर में होंगे

About Author

You may have missed