विधानसभा के बाहर जिला परिषद कर्मचारियों का वेतन विसंगतियो को लेकर जोर दार प्रदर्शन

शिमला।हिमाचल विधानसभा मॉनसून सत्र के दूसरे दिन विधानसभा के बाहर जिला परिषद कर्मचारीयो ने जोरदार प्रदर्शन किया। सैंकड़ो कर्मचारी अपने वेतन विसंगतियों को लेकर चौड़ा मैदान में धरने पर बैठ गए है। प्रदेश भर से आए जिला परिषद,पंचायत के लगभग 4500 कर्मचारीयो ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

कर्मचारियों का कहना है कि सरकार ने हमसे वादा किया लेकिन अभी तक पूरा नही किया है। इसी को लेकर उन्हें आज विधानसभा के बाहर प्रदर्शन करने को मजबूर होना पड़ रहा है।
हिमाचल जिला परिषद कर्मचारी महासंघ  के  अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने बताया कि सरकार से उनकी मांग है कि उनकी वेतन विसंगतिया दूर किया जाए। उनका कहना था कि 2022 में उनका वेतन फ़िक्स कर दिया गया था लेकिन अभी तक न भत्ता दिया जा रहा है और ना ही छठा वेतन आयोग का लाभ उन्हें दिया जा रहा है। राजेश ने बताया कि वह अपनी मांग मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू के सामने रख रहे है अगर उन्हें कोई ठोस आश्वाशन दिया जाता है और उनकी मांग मानी जाती है तो यह प्रदर्शन खत्म कर देंगे अन्यथा यही पर धरना देकर बैठे रहेंगे।
 उन्होंने कहा कि लगभग 4500 कर्मचारी है जिला परिषद के तहत जो वेतन विसंगतियों से झूझ रहे है। उनकी सरकार से मांग है की उनकी मांग जल्दी पूरा किया जाए।

About Author