February 24, 2024

शूलिनी यूनिवर्सिटी ने एनआईआरएफ रैंकिंग में शीर्ष 100 में स्थान बरकरार रखा

सोलन, अनुसंधान केंद्रित शूलिनी यूनिवर्सिटी ने यूनियन एजुकेशन मिनिस्ट्री के तहत नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) द्वारा लगातार दूसरे वर्ष देश के शीर्ष 100 विश्वविद्यालयों में अपना स्थान बरकरार रखा है।यह हिमाचल प्रदेश की एकमात्र यूनिवर्सिटी है जो शीर्ष 100 विश्वविद्यालयों की सूची में शामिल है, जबकि देश में 96वें सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय का स्थान है। इसने अपने ओवरऑल स्कोर को भी 39.5 से बढ़ाकर 41.19 कर दिया है। 11 श्रेणियों में रैंकिंग के लिए 7500 से अधिक संस्थानों ने आवेदन किया था। कुल मिलाकर 1876 इंस्टीट्यूटस और यूनिवर्सिटीज ने ओवरऑल बेस्ट कैटेगरी के लिए प्रतिस्पर्धा की थी। विषयवार श्रेणी में, शूलिनी विश्वविद्यालय के फार्मा को 36 वें स्थान पर, मैनेजमेंट को 102-125 के बैंड में और इंजीनियरिंग को 125 पर स्थान दिया गया है। फार्मा, मैनेजमेंट और इंजीनियरिंग ने राज्य के निजी विश्वविद्यालयों में अपना नंबर एक स्थान बरकरार रखा है।
चांसलर प्रो पी.के. खोसला ने कहा कि 7,500 से अधिक इंस्टीट्यूटस ने रैंकिंग के लिए आवेदन किया था और यह गर्व की बात है कि हमारी यूनिवर्सिटी को शीर्ष 100 यूनिवर्सिटीज में स्थान दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस साल रैंकिंग के लिए प्रतिस्पर्धा करने वाले संस्थानों की संख्या में वृद्धि के साथ प्रतिस्पर्धा कड़ी थी।

इस उपलब्धि के लिए फैकल्टी और छात्रों को बधाई देते हुए, प्रो चांसलर विशाल आनंद ने कहा कि यह विश्व स्तर की शिक्षा और अनुसंधान के प्रति हमारे निरंतर प्रयासों को साबित करता है।

चांसलर प्रोफेसर अतुल खोसला ने कहा कि शीर्ष 100 में शामिल होना युवा यूनिवर्सिटी के लिए एक बड़ी उपलब्धि है और उम्मीद जताई कि अगले साल रैंकिंग और बेहतर होगी। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी का लक्ष्य देश के शीर्ष 50 विश्वविद्यालयों में शामिल होना होगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न श्रेणियों में यूनिवर्सिटी की लगातार अच्छी रैंकिंग इसे विश्व स्तरीय यूनिवर्सिटी बनाने के लिए फैकल्टी और छात्रों की प्रतिबद्धता को दर्शाती है

About Author

You may have missed