February 28, 2024

एसजेवीएन की अध्‍यक्षता में नराकास, शिमला (कार्यालय-2) की छमाही बैठक

शिमला।भारत सरकार द्वारा एसजेवीएन लिमिटेड के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक की अध्‍यक्षता में गठित नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति(नराकास), शिमला (कार्यालय-2) की छमाही बैठक का आयोजन आज एसजेवीएन लिमिटेड के परिसर में किया गया। बैठक की अध्‍यक्षता एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिक) गीता कपूरनेकी। बैठक में केंद्रीय सरकारी कार्यालयों में हिंदी के प्रयोग की समीक्षा की गई तथा भारत सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने की दिशा में विचार-विमर्श किया गया।

बैठक में निर्णय लिया गया कि एसजेवीएन नराकास की राजभाषा गृहपत्र‍िका का प्रकाशन करेगा। इसका उद्देश्‍य सदस्‍य कार्यालयों की सृजनात्‍मकता तथा रचनात्‍मक अभिरुचि को बढ़ावा देने के साथ-साथ राजभाषा हिंदी का प्रचार-प्रसार करना है। पत्र‍िका के प्रकाशन का समस्‍त दायित्‍व एसजेवीएन निभाएगा। इसके अतिरिक्‍त बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि नराकास समिति के सदस्‍य कार्यालयों के सर्वश्रेष्‍ठ राजभाषा कार्य-निष्‍पादन के लिए एसजेवीएन सदस्‍य कार्यालयों को राजभाषा शील्‍ड से सम्‍मानित भी करेगा।

बैठक की अध्‍यक्षता कर रही एसजेवीएन की निदेशक (कार्मिक), गीता कपूर ने कहा कि सभी सदस्‍य कार्यालय अपने-अपने कार्यालय में सराहनीय कार्य कर रहे हैं और आगे भी इसी गति को बनाए रखते हुए अधिकतम कामकाज हिंदी में संपन्‍न करने का हरसंभव प्रयास करेंI बैठक में उपस्थित सदस्‍यों का स्‍वागत करते हुए राजभाषा विभाग, गृह मंत्रालय, भारत सरकार के उप निदेशक(कार्यान्‍वयन), नरेन्‍द्र सिंह मेहरा ने कहा कि शिमला स्थित नराकास (कार्यालय-2) का कार्यभार एसजेवीएन की अध्‍यक्षता में सराहनीय कार्य कर रही है एवं इस नराकास समिति का कार्य बहुत प्रशंसनीय है।

इस अवसर पर निगम के कार्यकारी निदेशक (मानव संसाधन), एस.पटनायक सहित सदस्‍य-सचिव, नराकास-2, शिमला मृदुला श्रीवास्‍तव उपस्थित थी। समिति की बैठक में शिमला स्थित केंद्रीय सरकारी कार्यालयों, उपक्रमों तथा बैंकों से 42 वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

About Author