रामपुर बुशहर के जोबनी घाट में हुआ राजा वीरभद्र सिंह का अंतिम संस्कार टीका विक्रमा दित्य ने दी मुखाग्नि

शिमला: पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह का पार्थिव शरीर रामपुर बुशहर के जोबनी घाट में पहुंच चुका है।  यहां पर हजारों की संख्या में लोग इनके दर्शन के लिए पहुंचने है।
पदम पैलेस से जन सैलाब उमड़ा वहीं महिलाएं सीसक सीसक कर रोते हुए भी दिखी।
अंतिम समय में श्रद्धांजलि देने के लिए इस समय पूर्व मुख्यमंत्री  राजा वीरभद्र  के पार्थिक शरीर को श्रद्धांजलि देने के पक्ष व विपक्ष के नेता मौजूद रहें।
मूक अग्नि देने के तत्त पश्चात राष्ट्रीय सम्मान के साथ एसपी शिमला मोहीत चावला द्वारा सलामी सहित श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
पुरे पारम्परिक विधि विधान के साथ राजा वीरभद्र सिंह का अंतिम संस्कार किया गया। टीका विक्रमादित्य द्वारा  मुखाग्नि दी गई।
बाक्स
वहीं इस दौरान टीका विक्रमादित्य सिंह ने बताया कि राजा वीरभद्र सिंह ने क्षेत्र का एक समान विकास किया है उन्होंने बताया कि  हिमाचल का कोई भी जिला हो उसे एक समान देखा है।
उन्होंने बताया कि में भी उनके द्वारा दिखाए गए रास्ते पर ही चलने का प्रयास करूंगा और अन्य लोगों से भी यह उम्मीद करूगा। की राजा वीरभद्र सिंह के दिखाए गए रास्तें पर चलें।
इस दौरान मुख्य मंत्री,  वन मंत्री राकेश पठानीय,  शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज  कांग्रेस के
सुधीर शर्मा,  कौल सिंह ठाकुर,  मोहन लाल ब्रागटा,  राजेन्द्र राणा,   मुकेश अग्नि होत्री,  रोहीत ठाकुर,

About Author

You may have missed