February 23, 2024

अंधेरे और भारी बारिश के कारण शिव मंदिर में रेस्क्यू ऑपरेशन रोका,  

शिमला।राजधानी शिमला के समर हिल में प्राचीन शिव मंदिर पर हुए भूस्खलन के बाद सूचना मिलते ही पुलिस दल मौके पर रवाना हो गया जैसे ही पता लगा कि इसमें 15 से 20 लोग दवे हो सकते हैं तभी रेस्क्यू के लिए सुबह से ही आइटीबीपी जवान एचपी एसडीआरएफ सेना के जवान रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए लग गए उन्होंने तुरंत मोर्चा संभाला और बचाव एवं राहत कार्य शुरू कर दिया सुबह से शाम तक 9 शव निकाले जा चुके हैं बीच-बीच में रुक-रुक कर बारिश भी होते रहे लेकिन रेस्क्यू कार्य चलता रहा आसपास लोगों की भी भीड़ लगी रही इस दौरान कुछ बोलियांटर भी रेस्क्यू ऑपरेशन में शामिल हो गए और उन्होंने भी बचाव और राहत कार्य जी जान से लग गए कोई पत्थर हटाकर शव को निकलता और उठाकर एंबुलेंस तक पहुंच जाता कोई अन्य जगह ढूंढता कि शायद यहां तो नहीं है कोई शब्द वारंटी भी इसी उम्मीद में लग रहे कि कोई जिंदा मिल जाए किसी की जान बच जाए इसीलिए सभी ने जल्दी-जल्दी सुरक्षित तरीके से रेस्क्यू किया कि यदि कोई जिंदा दबा हुआ है तू उसे सुरक्षित निकाला जा सके लेकिन जितने भी जिंदगी थी खत्म हो चुकी थी एक के बाद शव  मिलते गए मौके पर सन्नाटा छाया रहा लोगों में एक ही बात की चिंता थी कि भगवान भोलेनाथ ने अपने भक्तों की रक्षा नहीं की वहीं कुछ लोग चर्चा करते रहे कि यहां पर आखिरी सोमवार पर काफी संख्या में श्रद्धालु आने थे और पूजा अर्चना करनी थी लेकिन सब  ध्वस्त हो गया।

देर शाम तक रेस्क्यू ऑपरेशन जारी रहा तभी अंधेरा भी हो गया लेकिन रेस्क्यू कार्य करते रहे तभी अचानक ऊपर से और मलव इसी दौरान कुछ लोग  एक शव को निकाल रहे थे। तभी तेजी से मालवा गिरने लगा और लोग पीछे हट गए तेज बारिश और अंधेरा होने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोक दिया गया अभी कितनी जिंदगियां दफन है इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता कल सुबह फिर रेस्क्यू ऑपरेशन किया जाएगा

About Author

You may have missed