February 24, 2024

शिमला नगर निगम की पहली मासिक बैठक  पांच मनोनीत पार्षदों को दिलाई गई पद एवं गोपनीयता की शपथ  अनुपस्थित अधिकारियों को शो केज नोटिस जारी

शिमला।23 जून को पूर्व मुख्यमत्री स्वर्गीय वीरभद्र सिंह की जयंती है इसी दिन शिमला के रिज मैदान पर प्रस्तावित उनकी प्रतिमा का शिलान्यास किया जाएगा। नगर निगम शिमला की बैठक में पहले ही प्रस्ताव पारित हो चुका है। लेकिन आज कांग्रेस शासित शिमला नगर निगम की पहली बैठक में इस मामले को दोबारा उठाया गया और 23 जून से पहले जगह चयन पर सभी औपचारिकताएं पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं।
शिमला के विधायक हरीश जनारथा ने सदन में यह मामला उठाया और कहा कि प्रतिमा लगाने के लिए मात्र जगह चाहिए बाकी उसका सारा खर्चा दान से होगा। लोग प्रतिमा के निर्माण के लिए स्वेच्छा से दान करेंगे।
बैठक में सेहब सोसाइटी के अंतर्गत रखे गए 900 सफाई कर्मचारियों का मुद्दा भी गरमाया जिसमें सामने आया कि 300 सफ़ाई कर्मी हाजरी लगती है लेकिन फील्ड से गायब रहते है। शिमला के विधायक ने तो यहाँ तक कहा की ये लोग शिमला से बाहर बैठकर मुफ्त बारह हज़ार प्रतिमाह वेतन लेते हैं। ऐसे सफ़ाई कर्मचारियों की लिस्ट बनाकर कार्यवाही करने के आदेश दिए है ताकि जरूरतमंद लोगों को रोजगार मिल सके। जो अधिकारी बैठक में आने से गुरेज् करते है उनको मंत्री अनिरुद्ध सिंह ने अगली बैठक में मौजूद रहने के सख्त आदेश दिए व जबाब तलब करने की बात कही। साथ ही सभी पार्षदों को सरकार की तरफ से नगर निगम को हर संभव मदद उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया।
नगर निगम शिमला की पहली बैठक में Property tax को लेकर भी मामला उठाया गया। जिसमें निगम को दिशा निर्देश दिए गए कि जिन लोगों से करोड़ों लेना है उसको वह वसुल नही कर पा रही है ऊपर से नये और टैक्स लगाए जा रहे है। मेयर सुरेंद्र चौहान ने कहा कि शिमला शहर के विकास के लिए हर प्रयास किए जायेंगे। पार्किंग, पानी व टैक्स को लेकर निगम बड़े फैसले करने जा रहा है ताकि शहर के लोगों को राहत मिल सके।

About Author

You may have missed